टॉप 57 रसायन सामान्य ज्ञान एक पंक्ति में |Top 57 Chemistry General Knowledge in a Line

टॉप 57 रसायन सामान्य ज्ञान एक पंक्ति में |Top 57 Chemistry General Knowledge in a Line

  • सर्वाधिक विद्युत ़ऋणात्मक तत्व फ्लोरिन है एवं सर्वाधिक विद्युत धनात्मक तत्व फ्रैन्शियम है।
  • फ्लोरिन उच्चतम इलेक्ट्राॅन बन्धता वाला तत्व है।
  • बैंजीन,पेट्रोल तथा एथिल एल्कोहल के मिश्रण को पाॅॅवर एल्कोहल कहते है।
टॉप 57 रसायन सामान्य ज्ञान एक पंक्ति में |Top 57 Chemistry General Knowledge in a Line
chemistory gk






  • रेडाॅन गैसीय तत्व में सबसे भारी तत्व होता है। एवं एस्टैटीन ठोस अधातुओं में सबसे भारी तत्व है।
  • वायुमंडल में सबसे अधिक मात्रा में पाये जाने वाला तत्व नाइट्रोजन है।
  • पानी की अस्थाई कठोरता कैल्सियम तथा मैग्नीशियम के बाइकार्बोनेट के कारण होता है।
  • पेट्रोल को राॅक तेल क्रूड तेल तथा खनिज तेल भी कहते है।
  • शराब में लगभग 12 प्रतिशत एथिल एल्कोहल होता है।
  • नइट्रोग्लिसरीन का प्रयोग डायनामाइट बनाने में किया जाता है।
  • शुद्ध सेल्यूलोज से कागज बनता है।
  • सिल्वर नाइट्रेट का प्रयोग निशान लगाने वाली स्याही बनाने में किया जाता है।
  • ग्रेफाइट का प्रयोग शुष्क स्नेहक के रूप में किया जाता है।
  • नींबू में साइट्रिक अम्ल एव इमली में टरटरिक अम्ल प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।
  • ओसामियम सबसे भारी धातु है।
  • मरकरी को क्विक सिल्वर कहा जाता है।
  • जिन अभिक्रियाओं में उष्मा उत्सर्जित होता है उन्हें उष्माक्षेपी अभिक्रियाएं कहते है।
  • सल्फ्यूरिक अम्ल एक प्रबल निर्जलीकरण  होता है।
  • धातुओं में चांदी सबसे अच्छा सुचालक है और सीसा कुचालक होता है।
  • सबसे प्रबल उपचायक लीथियम होता है।
  • ठोस कार्बन डाई आॅक्साइड को शुष्क बर्फ भी कहते है।
  • डबल रोटी बनाने में सोडियम बाईकार्बोनेट का प्रयोग किया जाता है इससे गैस उत्पन्न होता है जिससे डबल रोटी आसानी से फूल जाता है।
  • परम शुन्य ताप पर गैसों का आयतन शुन्य हो जाता है अथवा अणुओं की सभी प्रकार की गति शून्य हो जाता है।
  • कार्बन एक ऐसा तत्व है जिसमें सबसे अधिक श्रंखलन की प्रवृति होती है।
  • मार्श गैस का प्रमुख रचक मीथेन है।
  • रक्त का जमना एक रासायनिक परिवर्तन है, जो हवा की उपस्थिति में होता है।
  • खाद्य पदार्थों के संरक्षण के लिए बेन्जोइक अम्ल का प्रयोग किया जाता है।
  • आधुनिक आर्वत सारणी मोजले ने दिया है।
  • दुध में जल, वसा ,शकर्रा के अतिरिक्त कैसीन नामक फाॅस्फो प्रोटीन भी पाया जाता है।
  • कोयले की खदानों में मीथेन गैस निकलती है इसे मार्श गैस भी कहते है।
  • सुरक्षित दियासलाई में लाल फास्फोरस का प्रयोग किया जाता है।
  • यूरिया में नाइट्रोजन की मात्रा 46 प्रतिशत होता है।
  • अद्धचालकों की विद्युत चालकता तापमान बढ़ने के साथ बढ़ती है औश्र तापमान घटने पर घटती है।
  • एस्प्रिन तथा पैराएसिटामोल ज्वरनाशी पदार्थ होता है।
  • प्रतिजैविक बैक्टिरिया, कवक तथा मोन्डस द्वारा उत्पन्न होते है, जो अन्य बैक्टीरियाओं के लिए विषैले होते है।
  • प्लैटिनम को एडम उत्प्रेरक कहा जाता है।
  • रेडियोएक्टिव द्रव धातु फ्रैंसियम होती है।
  • ज्वालामुखी पर्वतों से सल्फर डाइ  आॅक्साइड गैस निकलती है।
  • कमरे के ताप पर धातु द्रव अवस्था में होती है।
  • सोडियम धातु बेंजीन व ईथर में विलेय होता है।
  • कृत्रिम सुगन्धिक पदार्थ बनाने में एथिल एसीटेट का प्रयोग किया जाता है।
  • चीटियों या मक्खियों में फार्मिक अम्ल पाया जाता ह    ैै।
  • पृथ्वी के अंन्दर पाये जाने वाले तेलों को खनिज तेल कहते है जैसे-पेट्रोल ,मिट्टी के तेल।
  • मेथिल आइसो साइनेट को  मिक गैस कहते है यह गैस अत्यंन्त विषैला होता है।
  • हीरा तथा ग्रेफाइट कार्बन के क्रिस्टलीय अपररूप होता है।
  • उत्पे्ररक एक पदार्थ होता है, जो रासायनिक अभिक्रिया के दर को बढ़ाता है परंन्त्ुा उत्प्ररक में स्वंम परिवर्तन नहीं होता है।
  • अम्लों को प्रोटाॅन दाताओं के रूप में और क्षारकों को प्रोटाॅन के रूप में परिभाषित किया जाता है।
  • सोडियम एक ऐसी धातु है जो जल पर तैरती रहती है।
  • गंधक के अम्ल का प्रयोग मोटर कार की बैटरियों मे किया जाता है।
  • सीमेंट के प्रमुख अवयव डाइकेल्सियम सिलिकेट, ट्राइकेल्सियम सिलिकेट का मिश्रण है, जिसमें जल के साथ मिश्रित करने पर जमने का गुण होता है।
  • स्टेनलेस इस्पात एक मिश्रधातु इस्पात होता है, जिसमें 18 प्रतिशत तक का्रेमियम और निकेल होता है।
  • अधतुओं के आॅक्साइड प्रकृति में अम्लीय अथवा उदासीन होते है।
  • वे खनिज जिनसे धातुओं को सुगमतापूर्वक तथा लाभकारी रूप में निष्कर्षित किया जा सकता है, अयस्क कहलाता है सभी अयस्क खनिज होते है परन्तु सभी अयस्क खनिज नहीं होते।
  • स्वर्ण की शुद्धता कैरेट में व्यक्त किया जाता है शुद्ध स्वर्ण जिसे 24 कैरेट स्वर्ण कहा जाता है  यह अत्यंन्त मृदु होता है जिसके कारण यह आभूषणों को बनाने के लिए सिल्वर तथा काॅपर की थोड़ी मात्रा के साथ मिश्रधातु बनायी जाती है।
  • अमोनिया बनाने के लिए हाॅबर प्रक्रम में धातुओं को शोधन या धातुओं का परिष्करण कहलाता है।
  • समान भौतिक अवस्था मंे किसी तत्व के दो या अधिक विभिन्न रूपों मंे अस्तित्व को अपरूपता कहते है।
  • दमा के रोगी को हीलियम और आॅक्सीजन का मिश्रण वायु के स्थान पर दिया जाता है।
  • रेडाॅन का प्रयोग कैंसर उपचार में किया जाता है।

Post a Comment

0 Comments