अफ्रीका में बनी पहली एआइ लैब

अफ्रीका में बनी पहली एआइ लैब

घाना में गूगल ने एक आर्टिफिशिएल इंटेलीजेंस रिसर्च लैब का उद्घाटन किया है।


 शोधकर्ताओं का कहना है कि अफ्रीका में अपने तरीके का यह पहला केंद्र है, जो विश्व को चुनौती देगा।

 अमेरिकी तकनीक से लैस यह प्रयोगशाला राजधानी अक्करा में आर्थिक, राजनीतिक और पर्यावरण संबंधी विषयों के बारे में बताएगी।

एएल अक्करा के गूगल हेड, मुस्तफा सिसे कहते हैं कि अफ्रीका में कई ऐसी चुनौतियां हैं जिनसे निपटने के लिए ये सेंटर बहुत कारगर सिद्ध हो सकते हैं। 


हालांकि इस तरीके से शोध केंद्र पहले टोक्यो, न्यूयॉर्क, पेरिस और ज्यूरिख में खुल चुके हैं।
 
 सिसे ने कहा कि इस लैब के जरिये हम स्वास्थ्य, शिक्षा और कृषि कार्यों में आने वाली परेशानियों का हल खोज सकते हैं।

 मसलन, फसलों में किसी खास किस्म के रोग का उपचार करना आदि। 

सेनेगल निवासी सिसे खुद भी आर्टिफिशिएल इंटेलीजेंस के विशेषज्ञ हैं। उन्होंने विश्वास जताया कि विशिष्ट इंजीनियरों, शोधार्थियों के साथ-साथ स्थानीय संस्थाओं और नीति निर्माताओं का भी उन्हें सहयोग मिलेगा।

Post a Comment

0 Comments